जनरल मैनेजर के पास सवा करोड़

इंदौर/देवास। प्रदेश में काली कमाई करने वाले सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ लोकायुक्त की कार्रवाई जारीहै। इसी सिलसिले में रविवार सुबह लोकायुक्त पुलिस ने मध्य प्रदेश अजा वित्त विकास निगम में जनरल मैनेजर और लेखाधिकारी भूपेंद्र सिंह भाटी के इंदौर और देवास स्थित ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की। छापेमारी की कार्रवाई इंदौरस्थित सुदामा नगर, बिजलपुर और महू में भी जारी है। लोकायुक्त पुलिस को उनके यहां से बड़ी मात्रा में बरामदगी हुई है। रविवार सुबह हुई इस कार्रवाई में लोकायुक्त पुलिस को भाटी के ठिकानों से सवा करोड़ रूपए की संपत्ति मिली है। देवास और इंदौर में घर वित्त विकास निगम के अधिकारी भाटी का इंदौर और देवास में घर है। हालांकि भाटी भोपाल में पदस्थ हैं, लेकिन उनका परिवार यहीं रहता है। लोकायुक्त पुलिस को लगातार भाटी के पास आय सेअधिक संपत्ति होने की शिकायतें मिल रही थी। जिसके बाद ही यह कार्रवाई की गई। जांच में उन्हें भाटी के घरों से कई बेशकीमती सामन, ज्वेलरी और बैंक की पासबुक मिली हैं। हालांकि अभी नकदी और ज्वेलरी का खुलासा नहीं हो पाया है। जांच में भाटी के घर से कैश और ज्वेलरी भी बरामद की गई है, जिनकी गिनती की जा रही है। इसके साथ ही एक बैंक लॉकर की भी जानकारी मिली है।भाटी के दो लड़के इंदौैर और भोपाल के निजी मेडिकल कॉलेजों में डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहे हैं। ये मिला भाटी के पास करोड़ों के असामी भाटी के पास घर से देवास के ग्राम सिंगावदा और मंदसौर के ग्राम मारूखेड़ी में 9 से 10एकड़ कृçष्ा भूमि के दस्तावेज मिले है। दोनों कृçष्ा भूमि के दस्तावेज भाटी के बच्चों के नाम है। उसकेइंदौर के सुदामा नगर, देवास के कालानी बाग, गवली पलासिया और बिजलपुर में चार जगहों पर घर हैं। गवली पलासिया में भाटी की मां अकेली रहतीं है, वहीं देवास के घर में उनके पत्नी और बच्चे रहते हैं। लोकायुक्त पुलिस को जांच में दस लाख की पॉलिसी के साथ बच्चों की शिक्षा पर दस लाख खर्च के दस्तावेज मिले हैं।

9 comments:

Dheerendra singh Bhadauriya said...

अधिकारी और नेताओं ने ही मिलकर ही तो देश में भ्रष्टाचार का इतिहास लिखा है,,,

MY RECENT POST: माँ,,,

Anonymous said...

Bade log choti soch....

Sanju said...

Vartmaan samaj me yehi sab ho raha hai.
Very sad....

रविकर said...

गजब ।।

Virendra Kumar Sharma said...

राजनेताओं और अफसरशाहों की मिलीभगत ही तो इस देश को दीमक की तरह चाट रही है .यहाँ तो पहियों वाली कुर्सियाँ खाके क़ानून मंत्री भी गुर्र गुर्र गुर्रा रहे हैं .

Shanti Garg said...

सरकार मंहगाई और भ्रष्टाचार की पुजारिन है।

Virendra Kumar Sharma said...

अब क्या करें इंडिया दर्पण जी !अफसर शाहों के इन छोटे मोटे घपलों की तरफ ध्यान ही नहीं जाता .हालाकि नेता अफसर गठजोड़ पुराना है .लेकिन फिलवक्त नेता लोग छाये हुए हैं लूट लाट के सब इटली भागने की

तैयारी में हैं .

Anonymous said...

tyqfvmub ksjwqtppig timberland divtaqc http://timblandbootsxoutletstores.webeden.co.uk/ amsdiszf yjdnrztjlc louis vuitton bags sale svsizeb http://vuittonsbagsxoutletstores.webeden.co.uk/

Ramakant Singh said...

THERE MUST BE ACTION AGAINST ***BHRASTACHAR***