भारतीय ईमेल पर नजर रख रहा अमरीका

नई दिल्ली। भारत उन पांच देशों में शामिल है जिस ईमेलस पर अमरीका की राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) "नजर" रखे हुए है। यह खुलासा इंग्लैंड के एक अखबार ने किया है। इंग्लैंड के "गार्जियन" अखबार के मुताबिक पांच देशों में भारत को पांचवे स्थान पर रखा गया है। एनएसए ने इस साल मार्च तक भारत के कम्प्यूटर नेटवर्क के जरिए कई ईमेलस की जानकारी हासिल कर चुका है। रिपोर्ट मे कहा गया है कि इससूची में ईरान को पहले स्थानपर रखा गया है,जबकि पाकिस्तान को दूसरे स्थान पर रखा गया है। तीसरे स्थान पर जोर्डन को रखा गया है,वहीं मिस्र को चौथे स्थानपर रखा गया है। अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक,अमरीकी सरकार का कहना है कि वह ऎसा करके उसकेवहां भविष्य में संभावित आतंकी हमले को रोक सकता है। एनएसए के इस कदम का बचाव करते हुए अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि यह एक छोटी से कीमत है ताकि अमरीका को आतंकी हमलों से सुरक्षित रखा जा सके। राष्ट्रपति ने कहा कि लोगों को भले ही यह पसंद नहीं आए,लेकिन आतंक से बचने के लिए यह एक सही कदम है। गौरतलब है कि अमरीका के इस कदम की दुनियाभर में तीखी आलोचना हो रही है।

3 comments:

Anonymous said...

Bad news for indians..

Ramakant Singh said...

sachamuch chintaniy

Virendra Kumar Sharma said...


चलिए भारत का कुछ तो दबदबा बना आखिर आतंकियों की खोह तो भारत भी बना रहा है पाकिस्तान धर्मी ,पाकिस्तान सोच के लोगों की मार्फ़त ..अमरीका जो कर रहा है ठीक ही कर रहा है भारत को भी चेता देना अमरीका भाई .खबर कर देना षड्यंत्रों की समय रहते हमें भी .....आखिर हम ही दो तंत्र है प्रजा को दो विपरीत दिशा में ले जाने वाले प्रजा केन्द्रित और प्रजा द्वेषी ...